पीएचसी पुरकाजी पर आशा-एएनएम का संवेदीकरण – अलग पहचान

अलग पहचान

Latest Online Breaking News

 पीएचसी पुरकाजी पर आशा-एएनएम का संवेदीकरण

😊 Please Share This News 😊

 

 पीएचसी पुरकाजी पर आशा-एएनएम का संवेदीकरण

दस्तक अभियान के लिए दिया गया प्रशिक्षण

मुजफ्फरनगर, 13 अप्रैल 2022।

जिलाधिकारी चंद्रभूषण सिंह एवं मुख्य चिकित्सा अधिकारी के निर्देशन में बुधवार को प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र (पीएचसी) पुरकाजी पर आशा कार्यकर्ताओं और एएनएम का संवेदीकरण किया गया। इस अवसर पर विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान के अंतर्गत जिला मलेरिया अधिकारी ने दस्तक अभियान के बारे में उन्हें बताया और संचारी रोगों के बारे में जागरूक किया।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. महावीर सिंह फौजदार ने बताया विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान 30 अप्रैल तक चलेगा। इस दौरान वेक्टर जनित रोग जैसे मलेरिया, डेंगू और चिकनगुनिया की रोकथाम के लिए कई कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। अभियान के दौरान बुखार, टीबी, कोविड आदि के लक्षणों वाले व्यक्ति के बारे में घर-घर जाकर पूछताछ की जाएगी। लक्षण मिलने पर चिन्हित कर उन्हें अस्पताल भेजा जाएगा। आवश्यकता पड़ने पर नि:शुल्क एंबुलेंस की सेवा भी उपलब्ध करायी जाएगी। लक्षण मिलने वाले व्यक्ति का पूरा नाम पता और मोबाइल नंबर सहित पूरा विवरण एएनएम के माध्यम से ब्लॉक मुख्यालय भेजा जाएगा।

 

जिला मलेरिया अधिकारी अलका सिंह ने बताया- विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान के तहत मंगलवार को सीएचसी शाहपुर व जानसठ में आशा व एएनएम का संवेदीकरण किया गया था। इसी तरह बुधवार को पीएचसी पुरकाजी पर आशा कार्यकर्ताओं और एएनएम का संवेदीकरण किया गया। उन्हें बताया गया कि अभियान के अंतर्गत ही जनपद में 15 से 30 अप्रैल तक दस्तक अभियान चलेगा। इसमें स्वास्थ्य विभाग की टीम घर-घर जाकर बीमार लोगों के बारे में जानकारी एकत्र करेंगी और 12 साल से अधिक आयु के जिन बच्चो को कोविड टीका नहीं लगा है, उन्हें कोविड टीका से प्रतिरक्षित किया जाएगा। अभियान के दौरान आशा, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताऔर आशा संगिनी घर-घर जाकर कुपोषित और अति कुपोषित बच्चों की सूची बनाएंगी। फिर यह सूची एएनएम के जरिए ब्लॉक मुख्यालय पर भेजी जाएगी। बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग कुपोषित व अति कुपोषित बच्चों को आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के माध्यम से पोषण पुनर्वास केंद्रों पर उपचार एवं पोषण उपलब्ध कराएगा।

उन्हें बताया गया कि संचारी रोगों से बचाव के लिए क्या करें, क्या न करें। अपने घर के आसपास पानी जमा न होने दें। गर्मी का मौसम शुरू होते ही लोग कूलर आदि इस्तेमाल करने लगे हैं। इस बीच मच्छरों का पनपना भी बढ़ गया है। ऐसे में कूलर की साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें। सप्ताह में कम से कम एक बार पानी निकालकर कूलर को अच्छे से साफ जरूर करें।

पुरकाजी पीएचसी प्रभारी डॉ. अरुण कुमार ने बताया गर्मी का मौसम शुरू हो चुका है, लोग कूलर आदि इस्तेमाल करने लगे हैं। हर सप्ताह में कम से कम एक बार कूलर का पानी निकालकर अच्छे से साफ जरूर करें, जिससे लार्वा न पनप सकें। उन्होंने कहा सभी गांवों में झाड़ियों की कटाई, नालियों और तालाबों की सफाई, उथले हैंडपंपों का चिन्हांकन समय से करा लिया जाए तो संचारी रोग को 90 प्रतिशत तक फैलने से रोका जा सकता है।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

[responsive-slider id=1466]
error: Content is protected !!